.

Saturday, February 13, 2016

इश्क के फूल | Infinite Love


दर्द की हवा जो चली,
इश्क के फूल भी सूखने लगे,

कोई तो कशिश थी सादगी में उसकी,
जो याद में उसकी खुद को भी भूलने लगे,

धड़कनों सा रिश्ता है दिल से तेरा,
जो आज फिर तुझे हम आंसुओ में ढूँढने लगे ♥♥


Friday, February 12, 2016

Tum | Hindi Poetry


मैं एक ठहरा लम्हा हूँ,
और तुम धड़कनों सी चलती हो,

मैं एक बूँद को तरसता हूँ,
और तुम नदी सी बहती हो,

मैं लब्ज़ ढूँढता हूँ,
और तुम आँखों से सबकुछ कहती हो,

मैं खुद से भी जुदा हूँ,
और तुम दिल में रहती हो ♥♥


Wednesday, February 10, 2016

मेरा रिश्ता | Infinite Love


तेरा चेहरा देखकर कैसे मैं तुझे पहचान लूँ,
मेरा रिश्ता तो तेरे जज़्बातों से था ♥♥



Tuesday, February 9, 2016

एक हसरत | Hopeless


सदियों से दिल में एक हसरत थी कहीं,
कि इश्क़ मिल जाये इन वादियों में कहीं,

ढूँढता फिर रहा हूँ तुझे मैं इन बारिशों में हर कहीं,
मगर तू मुझे मिल जाये अब वो मौसम नहीं ♥♥