.

Saturday, August 16, 2014

क्या कोई आयेगा कभी | Love Poems


पूछता रहता हूँ मैं इन खामोश सितारों से,
रूह को छूती हुयी इन बहारों से,
पूछता रहता हूँ मैं फूलो को चूमती हुयी इन तितलियों से,
घटाओं से बातें करते इन परिंदों से,
क्या कोई आयेगा कभी,
जो लब्ज़ मैं सुनने को तरसता रहा,
क्या वो गीत कोई मेरे लिए गुनगुनायेगा कभी ♥••♥

खुद से बातें करता हूँ मैं इन तनहा रातों में,
तड़प कर चीख उठता हूँ इन गहरे सन्नाटो में,
क्या कोई मिलेगा कभी गुमनामी की और जाते इन रास्तो में,
क्या कोई आयेगा कभी,
फिर हाथ पकड़ कर मुझे चलना सिखायेगा कोई,
खो दिया है मैंने खुद को एक झूठी चाहत की हसरत में,
क्या मुझे फिर से जीना सिखायेगा कोई ♥••♥

Wednesday, August 13, 2014

I Miss you | Sad Shayari


♥••♥ ऐ खुदा तमन्ना नहीं मुझे अब ज़िन्दगी से कोई,
तू चाहे तो खुशियाँ हज़ार देदे,
मैं जब भी उसे याद करू वो मेरे सामने हो,
उसे जी भर के जो देख सके मुझे बस वो नज़र देदे ♥••♥


Keyword Tag - I Miss you, True Love, Sad Poetry in Hindi, Alone in Love, Lost Love Poems, Sad Hindi Shayari

Sunday, August 10, 2014

वो सोचते हैं | Love Quotes

वो सोचते हैं की हम बेखबर है उनसे,
मगर जो लोग दिल में रहते हैं उन्हें हम बाहर ढूँढा नहीं करते |


Keyword Tag - Sad Hindi Poetry, Love Quotes, Crying in Love, Love Meter, Romantic Poems, Hindi Shayari

Thursday, August 7, 2014

मेरी आँखें नम है | Love Poems


रात तनहा है और नींद भी कम है,
दिल करता है की तेरे ख्वाब देखूं,
पर ना जाने क्यों दिल को आज तेरा एहसास कम है |
दिल चाहता है की फिर हमारी बात हो,
बारिश से भीगे इस मौसम में फिर हमारी मुलाकात हो,
कुछ पल के लिए गिले शिकवे मिटा दे ज़िन्दगी के,
कुछ हो हमारे बीच तो बस तेरे मेरे ज़ज्बात हो,
नज़रे सिर्फ तुझे ही ढूँढती रहती है,
पर ना जाने क्यों आज ये सारे रास्ते गुम है...