.

Saturday, June 16, 2018

आईना | Eternal LOVE


हर पहलू से तेरे हुस्न का मुआयना होता,
काश मैं तेरे घर का आईना होता ♥♥


Saturday, June 9, 2018

चुभन | Unrequited LOVE


उस बहती नदी की
कमर पकड़नी है,
उन परिंदों के साथ
साँसे लेनी है,

उन गुलमोहर के पेड़ो से
कुछ बातें कहनी है,
उन सूखे गुलाबों से
थोड़ी सी खुशबूं छीनी है,

टूटती साँसों के साथ,
अब ये जिंदगी जीनी है
दिल पे थोड़ी चुभन सहनी है,
मैंने आज फिर तेरी याद पहनी है ♥♥


Friday, May 18, 2018

संगीन | Unrequited LOVE


माना की इश्क़ में कई काम किये हैं संगीन,
ऐ इश्क़ मगर तू मुझे मुझसे मत छीन ♥♥


Friday, April 27, 2018

छांव | Unrequited LOVE


तेरी कमी दिल को इतनी खलने लगी है,
कि अब तो छांव भी धूप सी जलने लगी है ♥♥