.

Wednesday, July 23, 2014

कभी झूठे वादें ही कर दे | Love Poem


चाँद कहीं बादल में छिपा है,
ना जाने क्यों मेरा इश्क मुझसे खफा है,
तू है कहीं दूर मुझसे,
पर तेरा एहसास मेरे साथ सदा है ♥♥

तुझे पुकारूँगा कभी तो क्या तू चली आयेगी,
मेरे इन सुर्ख लबों पे क्या हंसी फिर लौट आएगी,
तुझे मेरी आँखों में बसाया था मैंने सितारों से मांगकर,
क्या तेरी भी आँखें कभी नम होगी मेरा दर्द-ए-दिल जानकर ♥♥

Monday, July 21, 2014

Sirf Dard Hi | Sad Shayari


♥♥ किसी को महोब्बत मिली,
तो किसी ने महोब्बत में ही ज़िन्दगी को पाया,
हम ने जब भी महोब्बत की,
सिर्फ दर्द ही हमारे हिस्से में आया ♥♥

Saturday, July 19, 2014

Khwaabo mein | Sad Shayari


♥♥ Naa Hosh hai Naa hi koi Khabar hai,
Teri yaado ka jo Dil pe Gehra asar hai,
Har waqt tere Khayalo mein Khoye rehte hain,
Khwabo mien tera Chehra Dekh sake,
Isliye Har Waqt Aankhen band kar Soye rehte hain ♥♥

Thursday, July 17, 2014

फरेब के खेल से | Quotes


खुदा ने दूर ही रखा था हमें इस फरेब के खेल से,
हम बेवजह ही महोब्बत के इस खेल में अपना किरदार ढूँढ़ते रहे |