.

Monday, October 15, 2012

Let Someone Is exposed to the Moon



जब-जब इस चाँद से चेहरे पर तेरी जुल्फोँ ने पहरा किया है,
तेरी अदाओँ ने इस दिल--नादान को मदहोश किया है,
तब-तब इस बेसब्र दिल ने जन्नत--नूर का दीदार किया है..

तेरी नीली नशीली आँखोँ ने हर वक्त मुझे मजबूर किया है,
तेरे ख्यालोँ ने इस तरह जकड़ लिया है,
कि तेरी यादोँ ने हर पल नशे मेँ चूर-चूर किया है..

ये तेरे हुस्न की रोशनी ही हैँ,
या फिर इस अमावस की काली रात मेँ,
किसी ने चाँद को बेपर्दा किया हैँ..

जब-जब मेरी रगोँ मे तेरी यादोँ का रक्त बहा हैँ,
तब-तब मेरे इस दिल ने तेरी धड़कनोँ से ऐतबार किया हैँ,
जब तेरे होठोँ ने मेरे होठोँ को छुआ है,
मानो जैसे किसी ढलती शाम मे मैँने मयखानेँ मे कोई जाम पिया है..

जब-जब मेरे कानोँ ने तेरे पेरौ कि आहट को सुना हैँ,
जैसे तेरी पायल की झंकार ने
इस बेजान दिल मेँ धड़कन की किसी सरगम को बूना है..

तेरी सादगी, तेरी खुशबु, तेरी जुल्फों का पहरा इतना घना है
या ये मेरी किस्मत का कोई गुनाह है
जो  इस दिल ने महोब्बत के लिए सिर्फ तुझे ही चुना है..

अब तेरा प्यार पाना है या खोना है,
जिंदगी भर रोना है या इस दर्द को छुपाकर हँसना है
मेरे प्यार की ये शिदत को देखकर,
तुझे अहम् तो होना ही होना है..

फिर भी तुझसे से ना कोई गिलाना कोई शिकवा किया है,
मेरी चाहत तो तेरे लिए हर रोज़ दोगुना है,
फिर भी तू मुझसे रूठ गई है,
ये मेरा नहीं किस्मत का कोई गुनाह है..

हम कभी यूँ जुदा हो जायेंगे,
कभी सोचा  था अब तो जिंदगी भर का यही एक रोना है,
अब तो इस दिल की  तो कोई आरजू है,
 ही कोई तमन्ना है,
बस जब भी मेरी नजरे तुझे देखे और तू मुस्कुरा दे,  
अब तो बस यही एक ख्वाब बूना है..

तेरे बिना एक पल भी मुझे नहीं जीना है,  
हर वक़्त मेरी सांसो का,
तेरी यादो के साये में ये रुकना और फिर चलना है,
हर घडी तेरी यादे  तड़पा देती हैं मेरी धडकनों को,
जो ये हर पल मेरे दिल में गिरता हुआ,
तेरी यादो का जो झरना है..

तुझे पाने  की कोशिश तो बहुत की पर  शायद,
नसीब में लिखी हुयी है तन्हाइया शायद,  
अब तो तेरे दीदार के बिना ही मरना  है !



Keyword tag : Sad Love Poems, Hindi Love Poems, Sad Shayari, Lost Love, Ture Love, Hindi Shayari

6 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.