Month: April 2014

Mera Dard Tujhse Hai

♥ मेरा दर्द तुझसे है, रूह का सुकून तुझसे है ♥ ♥ मुझे इश्क तुझसे है, मेरा जूनून तुझसे है ♥ ♥ हर सांस तुझसे है, जिन्दा होने का एहसास तुझसे है ♥ ♥ मेरी नींद तुझसे है, मेरे ख्वाब तुझसे है ♥ ♥ दिल का धडकना तुझसे है, रूह का तडपना तुझसे है ♥ ♥ […]

Read more

Dil Kho Chuka Hai

♥♥ एक हादसा जो हो चूका है, गुनाह इश्क का जो दिल कर चूका है, ऐ खुदा अब तू चाहे लाख रहम-ओ–करम कर, जो शख्स साँसों से ज्यादा जरुरी था, वो तो अब दिल खो चूका है ♥♥ Poetry Written by – MS Mahawar

Read more

हर राह पर इश्क के

♥♥ वफ़ा ढूँढने चले थे, हर राह पर इश्क के खरीददार निकले, जिसे हम प्यार की मूरत समझ बैठे थे, वो बाज़ार-ए-इश्क के सबसे बड़े ज़मींदार निकले ♥♥ Poetry Written By – MS Mahawar

Read more

Dil Ko Karaar

♥♥ वो नज़रे झुकाये खड़ी थी, कैसे देखते इश्क तो उसकी आँखों में था, लब भी कुछ कह ना सके, मेरा हाथ जो उनके हाथों में था ♥♥ ♥♥ कैसे चुरा लेता मैं नींद उसकी, मेरा हर ख्वाब जो उसकी नींदों में था, जो सुकून ज़िन्दगी ना दे सकी, वो मज़ा उसकी यादों में काटी […]

Read more

Main Uske Ishq Mein

♥♥ ऐ खुदा मेरी नींद मुझसे मत छीन की, मेरा महबूब मुझसे ख़्वाबों में तो मिले, अगर कर सकता है कुछ तो मुझपे इतना करम कर ♥♥ ♥♥ मैं उसके इश्क में इतना तड़पू की, वो मेरी साँसे रोक ले और मुझे मौत भी ना मिले ♥♥

Read more

Wo Kya Jaane Firaq-ae-Mahobbat

वो क्या जाने फ़िराक़-ए-महोब्बत, जो हँस पड़े मेरी महोब्बत का अंजाम जानकर, हमने भी आंसू बहाकर लौटा दिया उन्हें वो प्यार, हम पर ये उनका एहसान मानकर 

Read more

Tera Ishq Jinda Hai

♥♥ रात भी सो गयी है, पर मेरे दिल को सुकून कहा है, मैं तेरे इश्क में जाग रहा हूँ, चाँद-सितारें इस बात के गवाह है, आज चाँद को मैंने तेरे घर भेजा है, की देख क्या मेरा महबूब सो रहा है, वो बेखबर है मेरे इश्क से, मेरा दिल रो रहा है, सुबह चोखट पर […]

Read more