.

Sunday, June 29, 2014

Kuch Pal Jee le Zara

♥♥ Mere Karib aa aur Meri Dhadkan ko sun le zara,
Barish mein Mere Sang Jhoom le Zara,
Itna na tadpa ki Mar jau main,
Ab aa bhi Ja aur Meri tadpti Rooh ko Chum le zara ♥♥

♥♥ Teri Hasi se Phool khilta hai,
Tu Naa ho jo Pass mere to ye Dil Jalta hai...

Wednesday, June 11, 2014

A Love Proposal Poem

भरकर मुझे अपनी बाहों में,
ये दूरियाँ मिटा दे
एक ख्वाब जो मर चूका है,
उसे फिर मेरी पलको पे सजा दे
खोया रहू तेरी जुल्फों में,
वो शाम फिर से लौटा दे
एक बात अधूरी रह गयी है,
ज़िन्दगी की कशमकश में
लौट इन सुनी रातों में,
और वो बात फिर से बना दे...