.

Saturday, October 4, 2014

सिर्फ तुमसे | Love Poems


कोई तुझे याद दिन रात करता है,
कहीं मिल जायें हम दो पल कहीं,
दिल हर एक पल ये फ़रियाद करता है,
कोई रोक ना पाया उसे डूबने से,
महोब्बत जो वो तुझसे बेहिसाब करता है,
सूरज दिखाता रहा उसे उम्मीद की रोशनी हर सुबह..
मगर वो अँधेरे की तलाश में हर वक़्त,
रात की उस ख़ामोशी में,
भूली यादों को फिर जगाती,
चाँद की उस बिखरी चाँदनी में,
वो तुझे अपने बहुत करीब पाता है,
ख्वाहिश नहीं अब उसे ज़िन्दगी से कोई,
लबों पे बस तेरा ही नाम गुनगुनाता है,
कोई पूछता है उससे की क्या करते हो तुम,
कोई जवाब नही था उसके पास,
उसकी कांपती रगों को छूकर पता चला,
वो तो सिर्फ तुझसे प्यार करता है |



Keyword Tag : Sad Love Poems, Best Hindi Poems, Loneliness, Crying In Love, Lost love

No comments:

Post a Comment