.

Sunday, March 29, 2015

Mahobbat Mein | Infinite Love


टूट चूका हूँ महोब्बत में तेरे वादों की तरह,
ज़िन्दगी भी बदल गयी है तेरे इरादों की तरह ||



Thursday, March 26, 2015

Khuda Ne Likhi Hi Nahi | Love Poems


खुदा ने लिखी ही नहीं,
मेरी ज़िन्दगी में महोब्बत किसी की,
दर्द में तड़पना ही मुकद्दर है मेरा,
मेरे नसीब में कहा हँसी तेरे लबों जैसी ♥♥

तेरे होने से आँखों में,
आज फिर ये नमी है कैसी,
तुझे देखकर आज फिर,
दिल पे छा गयी है ख़ामोशी सी ♥♥

Saturday, March 21, 2015

Meri Aasha | Undefined Love


तुम्हें चाँद कहूँ या ख्वाब कहूँ,
मेरे लिए महोब्बत की परिभाषा हो तुम,
मेरा सुकून, मेरी ज़िन्दगी,
मेरी आशा हो तुम |


Top post on IndiBlogger.in, the community of Indian Bloggers


Tuesday, March 17, 2015

Tujhse Keh Naa Pau | TUM MILE


तोड़ दूँ सारी बंदिशें,
और तुझसे लिपट जाऊं,
सुन लूँ तेरी धड़कन को,
और तेरी बाहों में सिमट जाऊं |

छू लूँ मेरे लबों से तेरे लबों को,
तेरी हर सांस में घुल जाऊं,
तेरे दिल में उतर कर,
तेरी रूह से मिल जाऊं |

Sunday, March 15, 2015

Tere Khwaabo Mein | Shayari


आँखों को आज फिर सुकून,
तेरे ख़्वाबों में सोने से है,
मुद्दतो बाद आज फिर मेरे लबों पे हँसी,
मेरे दिल के करीब तेरे होने से है ♥♥


Thursday, March 12, 2015

Phir Wo Tanha Raat Naa Aaye | Love Poems


फिर वो तनहा रात ना आये,
उस तन्हाई में तेरी याद ना आये,
कोशिश यही मैं बार-बार करूँ ♥♥

तेरी सुकून को तरसती धड़कन को सुनकर महसूस किया,
की दुनिया भूलकर मैं तो सिर्फ तुझसे प्यार करूँ ♥♥

मेरे दिल में तू ही, धड़कन में तू ही,
कैसे मैं तुझसे ये इज़हार करूँ ♥♥

Tuesday, March 10, 2015

Tujhe Rab Se Maang Loon | Love Poems


तेरे होने से ख़ुशी मिलती है दिल को मेरे,
दिल करता है की कुछ पल तेरे साथ चलूँ ♥♥

तेरी खुशबू से सुकून मिलता है रूह को मेरे,
जब तू नजदीक हो मेरे मैं तो बस सांस लूँ ♥♥

तेरे होने से ही लबों पे मुस्कराहट है मेरे,
तेरा हाथ पकड़ कर तुझसे कुछ दर्द बाँट लूँ ♥♥

Saturday, March 7, 2015

Tere Labo Ki Hasee | Shayari


मौत से डर नहीं लगता मुझे,
मैं तो बस तेरी मायूसी से डरता हूँ,
तेरे लबों की हँसी ही ज़िन्दगी है मेरी,
मैं तो बस मेरी ज़िन्दगी से प्यार करता हूँ ♥♥



Wednesday, March 4, 2015

Tu Jo Keh De To | Love Poems


तू जो कह दे तो,
तेरे-मेरे कुछ ख्वाब सजा लूँ ♥♥

कोई जगह ना हो दर्द की ज़िन्दगी में मेरे,
मेरे हर अक्स में तुझे बसा लूँ ♥♥

ख़्वाबों के इन झुलतें झूलों में,
कुछ पल तेरे साथ बिता लूँ
♥♥

Monday, March 2, 2015

Mera Jikra Nahi | Shayari


दुनिया मेरे बारे में क्या कहती है,
मुझे इस बात की कोई फिक्र नहीं,
तकलीफ तो तब होती है,
जब बात महोब्बत की हो और मेरा जिक्र नहीं
♥♥