Day: March 16, 2015

Tere Khwaabo Mein | Shayari

आँखों को आज फिर सुकून, तेरे ख़्वाबों में सोने से है, मुद्दतो बाद आज फिर मेरे लबों पे हँसी, मेरे दिल के करीब तेरे होने से है ♥♥

Read more