.

Tuesday, April 14, 2015

Meri Tanhaai | Love Song


ढूँढ रहा हूँ तुझे,
पर तू ना कहीं मिला,
खफ़ा सा हूँ खुद से,
दर्द जो तेरी जुदाई से मिला ♥♥

मेरी परछाई भी तू है,
मेरी तन्हाई भी तू है,
खफ़ा है खुदा भी मुझसे,
मेरी खुदाई भी तू है ♥♥

आ तू अब पास आ,
मुझे गले से लगा,
आग लगी है दिल में,
इसे तू इश्क से बुझा ♥♥ 

तू जो दिल के करीब है,
हर पल हसीन है,
तू मेरा नसीब है,
तू ही मेरा यकीन है ♥♥

मेरा इश्क तू है,
तुझसे से ही हैं वफायें,
हर दर्द छोटा सा है तुझ संग,
मेरा सुकून है तेरी अदायें ♥♥

मेरी परछाई भी तू है,
मेरी तन्हाई भी तू है,
लबों की हँसी भी तू है,
दर्द-ए-जुदाई भी तू है ♥♥



7 comments:

  1. Badhiya, especially the last verse! :-) well done Madhusudan :-)

    ReplyDelete
  2. वाह सर जी, बहुत बढ़िया... बहुत अच्छा शायराना अंदाज़,,,सभी के लिए लाभदायक और ज्ञानवर्धक... धन्यवाद

    ReplyDelete
  3. वाह, क्‍या बात है सर जी। जबरदस्‍त कविता।
    Dr. Zakir Ali Rajnish

    ReplyDelete

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.