.

Wednesday, September 30, 2015

ऐ ज़िन्दगी | Alone


कोशिशें तू तमाम कर मुझे तोड़ने की ऐ ज़िन्दगी,
लहरों ने भी पत्थरों से टकराना मुझसे सीखा है |



10 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.