Tuesday, September 22, 2015

Dil Ko | Undefined Love

आँखों में आज फिर नमी सी है,
आज फिर दिल में तेरी कमी सी है,

आज फिर दिल को छूकर गुज़र गया है कोई,
धड़कने आज फिर सहमी-सहमी सी है


If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.