.

Monday, October 26, 2015

तेरी बेरुख़ी | Lost Love


वो हालात झूठे नहीं थे,
मेरे जज़्बात झूठे नहीं थे,

तेरी बेरुख़ी से मैंने जीना छोड़ दिया,
वरना हम तो कभी खुद से रूठे नहीं थे ♥♥


10 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.