.

Saturday, December 26, 2015

Phir Mahobbat | Love Song (Revisited)


जब-जब तेरे पास से गुज़रा,
ये महसूस किया,
तूने करके महोब्बत मुझसे,
क्यों मुँह मोड़ लिया,
सहमा दिल तनहापन से,
तुझे ढूँढ रहा ♥♥

दिल तू मुझको बता,
क्यों महोब्बत करने चला है तू,
दिल संभल जा ज़रा,
फिर महोब्बत करने चला है तू ♥♥

तू है मौजूद हर सांस में,
दिल सिर्फ तुझको ही मांगता,
तू है मिली हर मोड़ पर,
मैं सिर्फ खुद से हूँ लापता,
कैसे हूँ मैं जीया,
दर्द ये कोई जाने ना ♥♥

दिल तू मुझको बता,
क्यों महोब्बत करने चला है तू,
दिल संभल जा ज़रा,
फिर महोब्बत करने चला है तू ♥♥

पाना तुझे मुमकिन नहीं,
दिल मेरा है ये जानता,
दिल में कहीं फिर भी तू ही,
मुझको पुकारे वो रास्ता,
रूह से तेरी हूँ जुड़ा,
कुछ भी नहीं अब दरमियां ♥♥

दिल तू मुझको बता,
क्यों महोब्बत करने चला है तू,
दिल संभल जा ज़रा,
फिर महोब्बत करने चला है तू ♥♥


Indian Bloggers
I have rewritten a song lyrics, which is a superhit song "Phir Mahobbat" from the movie Murder-2. I'm not a good singer. But, I tried to sing as well. I hope, You would love the lyrics.

6 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.