Friday, January 29, 2016

दिल के जख्म | Heartless

अब टूटे ना ये दिल किसी से कि हाथों से ये गुलाब फेंक दे,
कोई मेरे दिल के जख्मों पर थोड़ी सी शराब फेंक दे |


If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.