.

Sunday, January 3, 2016

मखमली एहसास | Infinite Love


मैं सर्द हवाओं सा,
और मखमली एहसास हो तुम,

मैं खुद से भी दूर हूँ,
और मेरे दिल के पास हो तुम ♥♥

मैं सूखे हलक सा,
और रूह की प्यास हो तुम,

मैं नींद को तरसती आँख सा,
और एक खूबसूरत ख्वाब हो तुम ♥♥

मैं खुद से भी बेख़बर हूँ,
और साँसों के साथ चलती याद हो तुम,

मैं एक गुज़रा हुआ कल हूँ,
और मेरा आज हो तुम ♥♥


12 comments:

  1. Bahut Khooob!! Every word is mesmerizing!!!

    ReplyDelete
  2. Loved these nice details.Would be coming back for more………..

    ReplyDelete
  3. Lovely!!
    Happy new year madhusudan.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thank you so much, Shraddha :)
      Wish you too a very Happy New Year :)

      Delete
  4. बहुत सुन्दर
    नव वर्ष मंगलमय हो!

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया और आपको भी नव वर्ष की शुभकामनाएं |

      Delete

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.