.

Tuesday, May 31, 2016

Sitaaro Mein | Infinite Love


टूट कर यही मैं इन हवाओं में बिखर जाऊँगा,
अपनी बाहें तू खोल कर रखना,
मैं तिनका-तिनका तुझ में सिमट जाऊँगा ♥♥

मर कर भी मैं तुझसे दूर ना जाऊँगा,
कभी रात में अपनी खिड़की से झांकना तू,
मैं तुझे टूटते सितारों में नज़र आऊंगा ♥♥

जब चाँदनी छुयेगी तेरी हर अक्स को,
मैं तेरी हर सांस को चूमता हुआ,
तेरी रूह में समा जाऊँगा ♥♥

कोई दर्द ना हो तुझे,
मैं तेरे सामने ना आऊंगा,
मगर हवा बनकर तेरी जुल्फें सहलाउंगा ♥♥


6 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.