.

Sunday, July 17, 2016

रिहाई | Hopeless


महोब्बत ना सही,
मुझे तू तेरी जुदाई दे दे,

तड़प रही है रूह कब से,
मुझे तू मुझ से रिहाई दे दे ♥♥


4 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.