.

Tuesday, August 30, 2016

Khwaahishen | Infinite Love


ख्वाहिशें दिल की आज भी अधूरी है,
तुझ बिन जीना जैसे सांस लेना भी मज़बूरी है ♥♥


No comments:

Post a Comment