.

Sunday, October 2, 2016

Khwaab | Lovelorn


जो मजबूत दिखते हैं वही चुप-चुप के रोतें हैं,
कुछ लोग तकिये की जगह ख़्वाब साथ लेकर सोते हैं ♥♥


No comments:

Post a Comment