.

Wednesday, December 7, 2016

Janib | Eternal Love


मेरे अंदर कोई तूफ़ान सा है,
मगर क्यों ये इश्क़ बेजुबान सा है,

हर रोज़ बढ़ते है कदम तेरी ज़ानिब,
ये इश्क़ जैसे कोई मुक़ाम सा है ♥♥

ज़ानिब - towards
Indian Bloggers

4 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.