.

Wednesday, December 14, 2016

Rooh | Infinite Love


डायरी में छिपा रखे थे कुछ लम्हें इश्क के,
ज़रा सी हवा ने क्या छुआ सारी यादें बिखर गयी ♥♥


गले से तो सभी लगाते हैं,
कोई रूह से लगा ले तो बात बने ♥♥

Indian Bloggers

4 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.