.

Saturday, February 25, 2017

Do Lafz | Infinite Love


तेरे आने की खबर से,
ये दिल मचलता है,

कैसे संभाले इस दिल को,
ये इश्क़ में हर रोज़ बहकता है,

यूँ तो छुपा लेता हूँ हँसी में सबकुछ,
मगर ये दर्द चेहरे से झलकता है,

जब नहीं मिलते दो लफ्ज़ दर्द को,
ये दर्द फिर आँखों से छलकता है ।


No comments:

Post a Comment