.

Saturday, May 13, 2017

Nazaara | Afeemi Pyaar


रब से तुझे दुआ में मांग लूँ,
मुझे कोई टूटता सितारा मिल जाये,

लब कब से सवाल में है,
मुझे तेरी आँखों का इशारा मिल जाये,

जब आईने में तू सँवारे खुद को,
मुझे वो नज़ारा मिल जाये,

कहीं फिर टूट कर बिखर ना जाऊं,
मुझे तेरी बाहों का सहारा मिल जाये,

डूबा है दिल तेरी याद में कब से,
मुझे अब कोई किनारा मिल जाये ♥♥


No comments:

Post a Comment