.

Sunday, June 18, 2017

Dil Ki Baat | Hindi Poetry


एक बात जो होंठों तक कभी आई नहीं,
वो यादें जो कभी मैंने दिल से मिटाई नहीं,

सारा ज़माना जानता है मेरे दर्द की कहानियां,
सिर्फ एक तू ही है जिसे मैंने दिल की बात बताई नहीं ♥♥


Tuesday, June 6, 2017

Dhoop Si | Infinite Love


तन्हाइयों के अंधेरों में,
तुम धूप सी निकलती हो,

तुम्हें छूकर पानी हो जाता हूँ,
जैसे तेरी साँसों से मेरी रूह पिघलती हो,

ढूँढता रहता है दिल तुझे हर जगह,
तुम हो कि सिर्फ शाम की उदासियों में मिलती हो ♥♥


Saturday, June 3, 2017

Teri Julf | Infinite Love


ज़िंदगी को छुआ है मैंने तेरी जुल्फ़ें संवार कर,
आज घर लौटा हूँ मैं खुद को हार कर ♥♥