.

Saturday, June 3, 2017

Teri Julf | Infinite Love


ज़िंदगी को छुआ है मैंने तेरी जुल्फ़ें संवार कर,
आज घर लौटा हूँ मैं खुद को हार कर ♥♥

2 comments:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.