Day: August 22, 2017

Aadha Chaand | Hindi Poetry

आधा चाँद उसने अपनी जुल्फ़ों से ढक लिया, और आधा मेरी हथेलियों पर रख दिया ♥♥

Read more