Day: September 19, 2017

इंतज़ार बेवज़ह | Infinite LOVE

कतरा-कतरा इश्क़ जब दिल से गुज़रता है, जैसे बारिशों का पानी ज़मीं में उतरता है, आँखों को ये इंतज़ार बेवज़ह नहीं ऐ दोस्त, कोई तो है जहां में जो मेरे लिए संवरता है ♥♥

Read more

यादें देकर | UNLOVED

जिनके ख्यालों में सारा दिन गुज़र जाता है, उन्हें हमारा चेहरा गौर करने पे नज़र आता है, बड़ी पेचीदा है इश्क़ की ये कहानी ऐ दोस्त, भूलना उसे मुश्किल है जो हमे यादें देकर भूल जाता है ♥♥

Read more

रिश्ते | UNLOVED

गलतफहमियों की बुनियाद पे रिश्ते कहाँ टिक पाते हैं, जब बात रिश्तों की हो तो बेक़सूर लोग भी झुक जाते हैं ।

Read more

Door | Hopeless

पहले सोता था कि तुझसे ख्वाबों में कुछ कह सकूँ, अब सोता हूँ कि कुछ देर तेरी यादों से दूर रह सकूँ ♥♥

Read more

तेरा नाम | Infinite LOVE

तेरी बाहों में मुझे कुछ इस तरह थाम ले, कि मेरी धड़कनें हर घड़ी सिर्फ तेरा नाम ले ♥♥

Read more