.

Wednesday, September 13, 2017

शोर | HOPELESS


तुम ध्यान से सुनते क्यों नहीं,
लगता है तुम्हारे अंदर शोर बहुत है ।


No comments:

Post a Comment