.

Sunday, September 10, 2017

तेरी यादें | SANAM TERI KASAM


दिल तेरे ख्यालों में खो जाता है,
भीड़ में भी ये तनहा हो जाता है,

जब गुज़रती नहीं तनहा रात जाग कर,
ये तेरी यादें ओढ़ कर सो जाता है ♥♥


No comments:

Post a Comment