.

Thursday, April 19, 2018

दूरी | Infinite LOVE


तेरी यादों से भी अब मैं दूरी करूँगा,
मगर मेरे हिस्से की महोब्बत मैं पूरी करूँगा ♥♥


Wednesday, April 18, 2018

तेरा नूर | Unrequited LOVE


सारी रात तेरी यादों को बाहों में रखा है,
मैंने चाँद के होंठों से तेरा नूर चखा है ♥♥


Monday, April 16, 2018

रमजान | Eternal LOVE


मैं तेरी वफ़ा, मैं तेरा ईमान हो जाऊं,
तू चाँद बने और मैं रमजान हो जाऊं ♥♥


Saturday, April 14, 2018

इश्क़ | Unrequited LOVE


ऐ इश्क़ अगर तू मिल जाए तो क्या होगा,
तुझे सिर्फ छूने से हर चीज़ परायी हो गयी |



Thursday, April 12, 2018

तेरी ख़ुशबू | HiNDI Poetry


फूल भी साँसों को सुकून ना दे सके,
तेरी ख़ुशबू से जो किनारा कर बैठे ♥♥


Tuesday, April 10, 2018

सुकून-ए-दिल | Infinite LOVE


तुम एक दिन जरुर लौट कर आओगी,
सुकून-ए-दिल के लिए मैंने ख़ुद से ऐसे कई झूठ बोले हैं |


Sunday, April 8, 2018

तेरी जान | Infinite LOVE


रात भी मुझपे मुस्कुराने लगी है,
हवायें भी मुझे चिढ़ाने लगी है,
वो कौनसी ख़ुशबू है
जिससे परेशान है तू,
वो कौनसी याद है
जिससे तेरी जान जाने लगी है ♥♥


Monday, April 2, 2018

तेरा नाम | Romantic SHAYARi


मेरे जिस्म में भी जैसे तेरी रूह रहती है,
मैं सांस रोक भी लूँ तो धड़कने तेरा नाम लेती है ♥♥


Thursday, March 29, 2018

सांवला रंग | OCTOBER


तेरे होंठो का वो सांवला रंग,
जैसे रात आकर यहाँ ठहरी हो,
तेरे होंठो के नीचे वो काला तिल,
जैसे उस रात का कोई पहरी हो,
जी करता है कि मेरे लबों से,
तेरे लबों पे ठहरी रात से
कुछ सितारे चुरा लूँ ♥♥


Wednesday, March 28, 2018

बेधड़क | SHAYARi


तुम जो यूँ बारिशों में बेधड़क भीगती हो,
मेरे दिल की ज़मीं को तुम अपनी अदाओं से सिंचती हो ♥♥


Tuesday, March 27, 2018

रातरानी | Eternal LOVE


कहीं तुम उस रातरानी की ख़ुशबू तो नहीं,
जिसका इंतज़ार साँसों को कई रातों से था ♥♥


Sunday, March 25, 2018

लबों से | HiNDI Poetry


तुम्हारी उँगलियों के कुछ निशान
मेरे दिल पे रह गये हैं,
ज़रा अपने लबों से
इन्हें मिटा तो दो,
मैंने हवाओं से भी कह दिया है
कि इश्क़ है तुमसे,
तुम इसे अब झुठला तो दो ♥♥


Friday, March 23, 2018

Sunday, March 4, 2018

तेरी ख़ुशबू | Infinite LOVE


तुझे ख़ुद से दूर कब तलक करूँ,
तेरी ख़ुशबू को साँसों से कैसे अलग करूँ ♥♥


Sunday, February 18, 2018

नींद | Infinite LOVE


तेरी याद से ऊँगली छूटने नहीं दी,
मैंने ख्वाब की नींद टूटने नहीं दी ♥♥



Friday, February 16, 2018

तेरे लब | Unrequited LOVE


तेरे लब मेरे लबों पे रख दे,
ज़माने ने पत्थर किया है,
मुझे तू फिर मोम कर दे ♥♥


Tuesday, February 13, 2018

Baatein | Infinite LOVE


तेरी रूह से मेरी रूह ने बातें की है,
जब से तेरे लबों से मेरे जिस्म ने साँसे ली है ♥♥


Thursday, February 8, 2018

तेरा हाल | Unrequited LOVE


कितनी महोब्बत है तुझसे,
क्या तूने कभी सोचा है,
मैंने हवाओं से भी तेरा हाल पूछा है ♥♥


Tuesday, January 30, 2018

साँसों के रास्तें | Infinite LOVE


तेरी साँसों के रास्तें तेरे दिल में उतरना है,
एक बार हद में रहकर हद से गुज़रना है ♥♥


Monday, January 29, 2018

कभी ऐसा हो | Hindi POETRY


कभी ऐसा हो कि
चाँद भी ठंडी रात के आगोश में जले,
कभी सूरज भी छांव-छांव चले,
कभी ख़ुशबू तड़प कर हवा से गले मिले,
तब मुझे भी तेरी बाहों में बहकने की सज़ा मिले ♥♥


Sunday, January 28, 2018

DARD | Unrequited LOVE


दर्द ने कभी जीने ही नहीं दिया ऐ दोस्त,
ना उसकी बाहों में जगह मिली और ना ही मौत ।


Friday, January 5, 2018

जनवरी की सर्दी | LOVE POEMS


चल इन हवाओं को
तेरी ज़ुल्फ़ों की तरफ मोड़ दे,
तेरी साँसों से मेरी सांसे जोड़कर
तेरे लबों पे सिर्फ ख़ामोशी छोड़ दे,
ख़्वाबों की बालकनी से,
आसमां से सितारें तोड़ ले,
पूनम का चाँद बाहों में भरकर,
जनवरी की सर्दी ओढ़ ले ♥♥


Tuesday, January 2, 2018

मेरे लफ्ज़ | Hindi Poetry


जब तुझे हम कहीं भी दिखाई ना देंगे,
मेरे लफ्ज़ मेरे होने की गवाही देंगे ♥♥