.

Friday, August 31, 2018

मन | HOPELESS


सिर्फ़ अँधेरों में रहकर सुकून मिलता है मुझे,
ये उजालों में रहने वाले लोग मन के काले बहुत है |


No comments:

Post a Comment