.

Wednesday, September 5, 2018

दिल की बस्ती | Unrequited LOVE


एक पल में दिल की बस्ती उजड़ गयी,
वो हुस्न में लिपटा कोई सैलाब था |



1 comment:

If you want to leave comments. First preview your comment before publishing it to avoid any technical problem.