.

Friday, October 12, 2018

इक रात | हिंदी शायरी


तेरी धड़कनों को मेरी धड़कने सुनानी है,
तेरी पलकों के नीचे इक रात बितानी है ♥♥


No comments:

Post a Comment