.

Tuesday, February 19, 2019

बदन | LOVE


उसकी मुस्कुराहट ने कितनो के दर्द बाँटे हैं,
उसकी ख़ुशबू से फूल के बदन में साँसे हैं ।


मालूम | Romantic Shayari


तुम्हें क्या मालूम मोहब्बत क्या है,
तुमने कभी उसे मुस्कुराते नहीं देखा ।


Monday, February 18, 2019

तेरे नाम | रोमांटिक शायरी


तुझे मेरी कहानी में मुहब्बत लिख दूँ क्या,
तेरे नाम के साथ मेरा नाम रख दूँ क्या ।


मुश्किलें | Hindi Best Shayari


मुश्किलें मेरी वो बढ़ा देती है,
वो हर बात पे थोड़ा मुस्कुरा देती है ।


मेहमाँ | Urdu Poetry


शहर का शहर परेशान रहा,
कोई अपना मेहमाँ बनकर आया है ।


Sunday, February 17, 2019

लहजा | LOVE Shayari


फ़क़त पँख नहीं है उसके,
मगर लहजा परियों सा है ।


ज़माने | Hindi Poetry


वो लोग मुझे चिढ़ाने लगे है,
मिरे दिल को तेरा घर बताने लगे है,

उन को समझाएं कोई आसां नहीं मुहब्बत,
दिल को दिल बनाने में ज़माने लगे है ।


Saturday, February 16, 2019

अदब | Romantic Shayari


बड़े ही अदब से देखता हूँ मैं उसे,
उसकी मुस्कुराहट में ख़ुदा मालूम होता है ।


शहर | Pehla Pyaar


वो जो नज़रे झुका के चलती है,
सारा शहर उसकी नज़रों में उठना चाहता है ।


आसां | Romantic Shayari


इतना आसां कहा है उसे मुस्कुराते देखना,
आईने ने भी अपना दिल बचा के रखा ।


Friday, February 15, 2019

दुआ | INFINITE LOVE


ख़ुद ख़ुदा भी सजदे में है तिरे लिए,
मैं तिरे लिए कोई और दुआ क्या माँगूं ।


आखिर | Hindi Shayari


उसे अब बताना भी तो जरूरी नहीं,
मुहब्बत आखिर पूछ के तो नहीं कि जाती ।


आईना | LOVE Quotes


इक उम्र आईना उससे नाराज़ रहा,
वो जो दिल में था कभी सामने नहीं आया ।


लकीरों | Hindi Poetry


कभी सीने से भी लगा ले,
मैं सिर्फ़ तस्वीरों में रहना नहीं चाहता,

कभी तेरे हाथों को चूम ले,
मैं सिर्फ़ लकीरों में रहना नहीं चाहता ।


मर्ज़ | iSHQ Shayari


अब उसकी मुस्कुराहट से सुकूँ है दिल को,
यूँ तो मिरे मर्ज़ का कोई इलाज ना मिला ।


अँधेरा | Hindi Poetry


इन उजालों से अब डरता हूँ मैं,
कहीं अँधेरा हो तो दिल को सुकूँ मिले।


ख़लल | ROMANTIC Shayari


तुम्हारा यूँ देर रात तक जागना ठीक नहीं,
चाँद को देखकर सितारों की नींद में | पड़ता है ।


ख्याल | Shayari


मैंने कभी तुमसे मोहब्बत नहीं की,
सिर्फ तिरे ख्याल ने मुझे ताउम्र परेशान किया ।


Wednesday, February 13, 2019

पागल | Unrequited LOVE


सारी दुनिया पागल लगने लगी है,
मुहब्बत ने इतना समझदार बना दिया ।


तवक़्क़ो | LOVE Shayari


किसी से अब क्या तवक़्क़ो करे कोई,
बेदिलों की बस्ती में दिल की बात कौन सुने ।


दर्द | Hindi Poems


तेरी तस्वीरों को देखकर थोड़ा मुस्कुरा लेते हैं,
यूँ तो तेरे ख़्याल भी मिरा दर्द बढ़ा देते हैं ।


Tuesday, February 12, 2019

हिकायतें | Hindi Poetry


उनके होंठों पर मेरी हिकायतें बहुत है,
मैं ख़ुद कहूँ तो शिकायतें बहुत है,

दिल का दम घुटता है इस शहर में,
यहाँ जिस्मों को जोड़ने की रिवायतें बहुत है ।


नाशाद | Urdu Shayari


कभी दिल को बेवजह ही नाशाद किया,
तुझे फुर्सत निकाल कर याद किया ।


गुनाह | Sad Shayari


दिल उम्मीद भी करे तो गुनाह क्या है,
उसके सिवा दुनिया में और रखा क्या है,

यूँ तो हर शख्श ने हमे नाशाद किया,
वो भी दिल तोड़ दे तो बुरा क्या है ।


Monday, February 11, 2019

वस्ल | Hindi Shayari


तिरे हिज़्र में मर मर के जीये,
वस्ल की रात में घुट इंतिज़ार के पीये ।


कर्जा | Unrequited LOVE


ख़्वाबों का कर्जा है मुझ पर,
रोज़ नींद को आने नहीं देते ।



पायल | Hindi Poetry


इक चेहरा ख़्याल से गुजरा
और आँखों को भनक ना हुई,

उसने ख़्वाबों में दस्तक दी
और पायल की खनक ना हुई ।


Sunday, February 10, 2019

तिरे हिज़्र | Adhuri Mohbbat


गुलाब चुभने लगे हैं,
अब काँटों से मुहब्बत की जाय,

वस्ल होता तो आँखों से पीते,
तिरे हिज़्र में मैखानों में पी जाय ।


पलकों पे | Sad Shayari


मैं तुझे अपनी पलकों पे बैठा तो लूँ,
तू मुझे कभी अपनी नज़रो से गिरा मत देना ।


वादा | Undefined LOVE


कोई कैसे माँगे कोई वादा या सुकून तुझसे,
तुझे देखकर दिल मुस्कुराहता है क्या काफ़ी नहीं ।


नींद | Unrequited LOVE


चलो तुम दिल तो रख लो,
मगर मेरी नींद तो वापस कर दो ।


Saturday, February 9, 2019

थकान | Eternal LOVE


सोचता हूँ कि उसकी मुस्कुराहट साथ रख लूँ,
सफ़र में कुछ तो हो जिससे थकान मिट जाए ।


मुस्कुराहट | Romantic Shayari


उसकी मुस्कुराहट ने कितनो के दर्द बाँटे हैं,
उसकी ख़ुशबू से फूल के बदन में साँसे हैं ।


तेरा नाम | Hindi Shayari


तुझे मेरी कहानी में मुहब्बत लिख दूँ क्या,
मेरे नाम के साथ तेरा नाम रख दूँ क्या 


चेहरे | हिंदी शायरी


सब चेहरे संवर कर आये थे,
वो आई और मुस्कुराकर चली गई ♥♥


Friday, February 8, 2019

नशा | एकतरफा मोहब्बत


मैंने बगीचें में गुलाबों का पता किया,
हवाओं ने मुझे तेरे होंठों का पता दिया,

लोग समझते हैं कि मैं शराब पीता हूँ,
मैंने तो सिर्फ़ उसकी साँसों का नशा किया ♥♥