Day: August 10, 2019

iSHQ Pighlega | हिंदी शायरी

तिरी यादों की आंच से जब इश्क पिघलेगा, लहूँ बन कर आँख से बाहर निकलेगा ।

Read more