तेरा इश्क़ | Infinite Love

आशिकों को आशिक़ी का मज़ा मिल जाये,
मुझे भी तेरे इश्क़ में मरने की सज़ा मिल
जाये
|
♥♥

तेरा इश्क़ ही अब मेरी पहचान है,
सब को तो पता है सिर्फ एक तू ही अनजान है |
♥♥

अब दिल मेरी मानता ही नही,
तेरी याद में ऐसा खोया है,
जैसे कि मुझे तो जानता ही नही |
♥♥

सारे शहर में मेरा नाम है,
सिर्फ एक तेरी ही गली में बदनाम है |
♥♥

Tagged , , , , , , , , , , , , ,

4 thoughts on “तेरा इश्क़ | Infinite Love

  1. wah!!! u r too good MS 🙂

    1. THank you so much, Archana ma'am 🙂 I really appreciate your words.

  2. Lovely !!
    nice to read it.

    1. THank you so much, Shraddha 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *