Tag: Broken Heart Poems

ज़ुल्फ़ | Romantic Shayari

हवा भी बचकर निकलती है, उनके आरिज़ पे जब ज़ुल्फ़ गिरती है ।

Read more

इंतिज़ार | Hindi Poetry

उनके घर से निकलने के इंतिज़ार में है, “मैं” नहीं मेरा इंतिज़ार तेरे प्यार में है ।

Read more

तेरी सादगी | Hindi Shayari

वो ठंडा पानी और तेरी सादगी गिरती बर्क़ है, शराब और तेरी आँखों में इतना ही फर्क़ है ।

Read more

भुलाया नहीं | Sad Shayari

शायद भूल थी मेरी, जो तुम्हें भुलाया नहीं, . जो इक उम्र दिल में रहा, वो कभी नज़र आया नहीं ।

Read more

तेरी ख़ुश्बू | Romantic Poetry

शहर भी बदला मगर हवा नही बदली, तेरी ख़ुश्बू ने साँसों का हर जगह पीछा किया ।

Read more

अजनबी | पहला प्यार

क़रीब आकर भी वो मुझसे दूर हो रहा है, इक अजनबी के लिए ना जाने क्यों दिल रो रहा है ।

Read more

ज़िंदा | Hindi Poetry

यूँ तो जी रहा हूँ मगर, गले में यादों का फंदा है, मैं जिस पे मर गया, वो मिरे बग़ैर ज़िंदा है ।

Read more

खनक | ISHQ Shayari

इक चेहरा ख़्याल से गुजरा और आँखों को भनक ना हुई, उसने ख़्वाबों में दस्तक दी और पायल की खनक ना हुई ।

Read more

पागल | Unrequited LOVE

सारी दुनिया पागल लगने लगी है, मुहब्बत ने इतना समझदार बना दिया ।

Read more

दर्द | Hindi Poems

तेरी तस्वीरों को देखकर थोड़ा मुस्कुरा लेते हैं, यूँ तो तेरे ख़्याल भी मिरा दर्द बढ़ा देते हैं ।

Read more