संगीन | Unrequited LOVE

माना की इश्क़ में कई काम किये हैं संगीन,
ऐ इश्क़ मगर तू मुझे मुझसे
मत छीन 
♥♥


Tagged , , , ,

1 thought on “संगीन | Unrequited LOVE

  1. इश्क का नशा होता ही है उसमें डूबने के लिए
    बहुत खूब!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *