Ye Andhera Kyon Hai | Emotional Poems

दीये जल रहे है,
मगर ये अँधेरा क्यों है?

साँसे चल रही है,
मगर सबकुछ ठहरा-ठहरा क्यों है?

भूल चुके इन टूटे ख्वाबो को भी,
मगर आज फिर दिल का दर्द गहरा क्यों है?

खो दिया है खुद को भी,
मगर हर तरफ तेरा चेहरा क्यों है?

दीये जल रहे है,
मगर ये अँधेरा क्यों है?






Top post on IndiBlogger.in, the community of Indian Bloggers




Keyword Tag – Sad Love Poems, Lost Love, Emotional Poems, True Love, Loneliness, Darkness Inside my Heart, Love Is gone


Tagged , , , ,

2 thoughts on “Ye Andhera Kyon Hai | Emotional Poems

  1. beautiful as always 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *