Month: October 2012

The Painful Love | Love Poems

मैं तो तेरे प्यार में जल रहा हूँ, अगर तू ना मिली तो इस, मतलबी दुनिया को आग लगा दूंगा… तू ही एक मेरी मंजिल है, मैं होश में नहीं और, इन काटों पर चले जा रहा हूँ, अगर तू किस्मत में नहीं तो, मेरी जिंदगी को और सजा दूंगा… हर जगह तुझे तराशती हैं, मेरी बेकरार नजरे, तेरी चाहत का बस एक खुमार है, तुझे भूला दू ये मुमकिन नहीं, पर तू ना मिली तो इस, दुनिया को भूला दूंगा… तू ही सफ़र है, हमसफ़र है, मंजिल है, बस नहीं कोई रास्ता है, तू ही मेरी रूह है, मेरा रब है, मेरी जान है, तू ना मिली तो जैसे, सबकुछ गंवा दूंगा !

Read more

Wherever You Are | Love Poems

तू जहाँ भी रहे, तेरा दामन खुशियों से भरा रहे, तू खुदा से केवल एक बूँद ख़ुशी मांगे, और खुदा की रहमत इतनी हो, की तेरी खुशियों का घड़ा भरा रहे, मुझे तो खुदा ने तेरी यादो के सिवाय, कुछ भी ना दिया, पर तेरा जीवन खुशियों से हरा–भरा रहे, तेरी यादो के तूफ़ान मे… तेरा ये पागल दीवाना, हमारी चाहत का दीपक लिए खड़ा रहे, तेरी चाहत को ना पाना सका, हर वक़्त मेरी बेबसी का ये बयान मुझसे कहे, बस तेरी मुस्कराहट हमेशा, तेरे होंठो पे बनी रहे, बस यही मेरी हसरत यही अरमान रहे, अब तो बस धड़कने यही कहती हैं, कि तू खुश रहे, तेरी खुशियों के पीछे मेरा सारा जहान रहे |

Read more

Innocence Of Water | Life Quotes

ये जिँदगी भी पानी की कोई लहर है, रास्तेँ मे कितने भी पत्थर क्योँ ना हो, ये पानी पत्थरोँ से टकराता हुआ आगे बढ़ जाता है, पर पानी की सरलता ये है कि, उसके नसीब मेँ तो पत्थरोँ कि ठोँकरे खाना लिखा है, पर पानी का वक्त के साथ असर ये है कि, ठोँकरे देने वाला पत्थर एक दिन पानी से धुल जाता है | Keyword Tag : Inspirational Poems, Life Quotes, Satire, True words, Innocent Love

Read more

काश ! कहीं ऐसा होता | Hindi Poetry

काश ! कहीं ऐसा होता कि तेरी मुस्कराहट को देखे बिना ये सुबह ना होती और ना ही फिर हमने ये तनहा दिन गुजारा होता ♥♥ काश! कहीं ऐसा होता कि तेरी घनी जुल्फों की छाँव में हम बैठे होते और सूरज को देखे बिना इस ढलती शाम का इशारा होता ♥♥ काश! कहीं ऐसा […]

Read more

अधूरी खवाहिश | Love Quotes

ख्वाहिशें नहीं थी कभी मुझे ज़िन्दगी से कोई, मगर जब भी तुझे देखता हूँ तो लगता है, एक खवाहिश अधूरी ही रह गयी ज़िन्दगी की ♥••♥

Read more

Love Is Like a Alcohol !

Sharab ka Nasha bhi koi Nasha hai ! Jaise – Jaise waqt Guzrega, Waqt ke Sath utar jayegi, Agar Nasha hi Karna hi hai to, Ek baar Kisi se Mahobbat kar lo, Waqt ke Sath Madhoshi badhti hi jayegi !

Read more

Posture Of Destiny !

ना जाने ये तक़दीर का कौनसा मोड़ है, इस गम के सागर में डूबने वाला भी मैं हूँ, और बचाने वाला भी में हूँ  !

Read more

Money Is Everything !

ये दुनिया है बन्दे यहाँ कोई ना किसी का अपना है, स्वार्थ, लोभ और मतलब  की लकीरे माथे पर, पैसा ही सबका सपना है, पैसा है तो प्यार है, पैसा  ही संसार है, पैसा है तो यार है, पैसा ही सबकुछ,पैसा ही रिश्तेदार है, पर इस पैसे की चाह  में, तुम भावनाओ का कत्ल मत करना, ये दुनिया है बन्दे यहाँ कोई ना किसी का अपना है… स्वार्थ, लोभ और मतलब  की लकीरे माथे पर, पैसा ही सबका सपना है, नफरत मिटा दे पैसा,  रोते हुए को हँसा दे पैसा, अब दिल से किसी का कोई ना रिश्ता, पैसा ही दिखता, पैसा ही भाता,  पैसा है तो प्यार दिखता, पैसा है तो प्यार बिकता, ये दुनिया है बन्दे  यहाँ कोई ना किसी का अपना है, स्वार्थ, लोभ और मतलब  की लकीरे माथे पर, पैसा ही सबका सपना है, हर तरफ एक ही राग ये मेरा ये अपना, बेबसों का मूह बंद कर, बस अपना राग है जपना,   पैसा ही बोलता,पैसा ही गाता, पैसा ही सखा है, पैसा ही भ्राता, अब हमदर्दी और इंसानियत से किसी का कोई ना नाता, ये दुनिया है बन्दे   यहाँ कोई ना किसी का अपना है, स्वार्थ,लोभ और मतलब  की लकीरे माथे पर, पैसा ही सबका सपना है, पैसा ही सबका अपना है ! Keyword tag : Satire, Vicious Acts of Society, Humanity is Died

Read more

Your Memories Like a Storm, I have always Face to Them!

तेरी यादो के तूफ़ान ने इस दुनिया से कर दिया मुझे गुमनाम है,  अब ना कही होश है, और ना ही दिल में जान है,  रो–रो कर अब तो आँखों से आंसू भी सुख गये हैं, जैसे हम दोनों के बीच जुदाई का सूखा सागर  दरमियान है,  तेरी यादो की इस बहती नदी में डूबा… ये मेरा सारा जहान है,  तू मेरे दिल में है,मेरी सांसो में है, मेरी धड़कन में है,  मेरी हर रग–रग पर लिखा हुआ तेरा नाम है,  तेरे बिना  मेरी दुनिया ही सुनसान है, लोग कहते हैं भूल जाऊ में तुझे पर,   दिल से धड़कन को जुदा करना कहा इतना आसान है,  इस कदर होश खो बैठे है की, पता नहीं मर गये हैं या जिन्दा हैं, बस मेरे होठो पर तेरा ही एक नाम है |

Read more

तू ही दिल है

  तू ही दिल है, तू ही जान है, तेरे सिवाय अब कोई ना मेरा अरमान है ,  तू ही मेरी सुबह,   तू ही मेरी शाम है, तेरे बिना ना  ही दिन है, ना ही कोई साँझ है, तू ही दिल का सुकून है, धड़कन की आवाज़ है, तेरे बिना इस बेताब दिल को कही भी ना करार है… तू रब है, तू ही दुआ है, ऐसा पहले तो कभी ना हुआ है, तू ही मेरा गुरुर है, तू ही मेरा अभिमान है; तुझे मांग लू, या मोड़ दू, मेरी धडकनों का हर वक़्त यही फरमान है, मेरी दिल की इस वीरान बस्ती में,   सिर्फ तेरी यादों का ही एक मकान  है !

Read more