Day: December 18, 2012

Close to You

आँखे जो बंद कर लूँ , तो मैं तेरी बाँहों में हूँ , तुझको ओढ़ लूँ , तुझ में सिमटू , सांसे जो लूँ तो तेरी पनाहों में हूँ , हवा जो चले, तेरी जुल्फे जो उड़े, तेरी उन उडती हुयी जुल्फों से, निकली फिज़ाओ में मैं हूँ , सपनो में जी लूँ ,तुझे बाँहों […]

Read more