Day: October 4, 2014

सिर्फ तुमसे | Love Poems

कोई तुझे याद दिन रात करता है, कहीं मिल जायें हम दो पल कहीं, दिल हर एक पल ये फ़रियाद करता है, कोई रोक ना पाया उसे डूबने से, महोब्बत जो वो तुझसे बेहिसाब करता है, सूरज दिखाता रहा उसे उम्मीद की रोशनी हर सुबह.. मगर वो अँधेरे की तलाश में हर वक़्त, रात की […]

Read more