Day: October 27, 2015

तेरी बेरुख़ी | Lost Love

वो हालात झूठे नहीं थे, मेरे जज़्बात झूठे नहीं थे, तेरी बेरुख़ी से मैंने जीना छोड़ दिया, वरना हम तो कभी खुद से रूठे नहीं थे ♥♥

Read more