Month: October 2016

Roshni | Happy Diwali

कहीं रह ना जाये अँधेरा कोई, कि वो ख़ुद जल रहे हैं, कुछ लोग दूसरों को रौशनी देकर, ख़ुद अंधेरों में पल रहे हैं | Wishing you all a very happy and prosperous Diwali ♥♥

Read more

Khwaab | Hopeless

ख्वाहिशों का बोझ अब उठाया नहीं जाता, चीखतें इन ख़्वाबों को अब जलाया नहीं जाता, पूछता हूँ पता मंज़िलों का खुद से, जाना बहुत दूर है, मगर अब कदम उठाया नहीं जाता ।

Read more

Tere Dil | Infinite Love

झांक कर देखना तेरे दिल में कभी तू, तेरे दिल की गलियों से मैं हर शाम गुजरता हूँ ♥♥

Read more

Chaand Ka Noor | Infinite Love

चाँद का नूर भी तेरे सामने फीका है, जब से तेरे मेहँदी लगे हाथों को मैंने देखा है ♥♥

Read more

Tera Noor | Sharad Poonam

रौशनी में डूबा, आसमां से आज चाँद बरसेगा, उस बिखरी चाँदनी में, तेरा नूर झलकेगा ♥♥ तेरे एहसास को महसूस कर, दिल आज फिर धड़केगा, तेरी यादों को छूकर, ये इश्क़ आज और भड़केगा ♥♥ Keyword Tags – Hindi Poetry, Hindi love Shayari, Hindi Sad Poetry, Romantic Poetry, Tum Bin 2, Shayari, 2 lines shayari, […]

Read more

Tera Wajood | Hindi Poetry

तेरी रूह को जो छाँव दे, मैं वो पनाह बनूँ ♥♥ तेरा वजूद मेरे खोने से है, तो मैं खुद को तबाह करूँ ♥♥ तेरी रूह जब छुए इश्क़ को, मैं उस लम्हें का गवाह बनूँ ♥♥ जिन आँखों को नसीब हो नज़दीकियां तेरी, मैं वो निगाह बनूँ ♥♥ Keyword Tags – Ae Dil Hai […]

Read more

हर जन्म | Tum Bin

तू मुझे याद करे कोई ऐसी भी शाम हो, कभी तन्हाई में तेरे लबों पे मेरा ही नाम हो, चाहे इन दूरियों का कोई भी अंजाम हो, हर जन्म में तुझसे महोब्बत का मुझपे ही इल्ज़ाम हो ♥♥ Keyword Tags – Romantic Shayari, Romantic Song Lyrics, Romantic Songs, Sad Love Poems, Sad Poetry, Sad Shayari

Read more

Tanha Dil | Love Poems

खुद को भूल गयी हूँ लेकिन, हर लम्हें में तुझे पाया है, सब कुछ छोड़ आयी हूँ, सिर्फ तुझे ही अपनाया है ♥♥ टूट कर चाहा तुझे उम्र भर, और तूने ही दिल दुखाया है, तेरी हँसी की लिये जी रही हूँ मैं, और तूने मुझे हर पल रुलाया है ♥♥ आज फ़िर तुझे याद […]

Read more

Jab Kabhi | Tum Bin

चर्चे होंगे इश्क़ के तेरे शहर में जब कभी, लोग तुझसे पूछ ना ले कि मेरा हाल कैसा है ♥♥

Read more

Dahleez | Channa Mereya

तेरी एक झलक को बैठे रहे, और ज़िन्दगी जैसे इंतज़ार बन गई, तूने जो दहलीज़ नहीं लांघी, वो दहलीज़ अब दीवार बन गई ♥♥

Read more