.

Tuesday, November 27, 2018

नींद | Unrequited LOVE


नींद को बुलाया तो तुम्हारी याद चली आई,
मेरे हिस्से में ना तुम आई और ना नींद आई ।


Friday, November 23, 2018

नशा | रोमांटिक शायरी


तेरी थोड़ी सी
पलकें झुका दे,
तेरी उँगलियों को
मेरी उँगलियों से मिला दे,
तेरी जुल्फ़ें
मेरे काँधे पर फैला दे,
जो नशा तेरी आँखों में है
तेरे होंठों से पिला दे ♥♥


Sunday, November 18, 2018

मेहबूब | एकतरफा प्यार


ये कौन है जो
बिना रुके मेरी ओर आ रहा है,
मेरी नज़र में कैद है जो
मुझसे ही नज़रे छिपा रहा है ♥♥

छुप-छुप कर मोहब्बत की है जिसने,
सरेआम आँखों के इशारों में बुला रहा है,

Friday, November 16, 2018

तलब | हिंदी शायरी


तुझसे इश्क की तलब
कभी गयी ही नहीं,
सब कुछ छोड़ दिया,
मगर तेरी यादें
मुझसे अलग हुयी ही नहीं ♥♥


Sunday, November 11, 2018

मोहब्बत | ROCKSTAR 2011


इक उम्र तुझे दी है,
मेरे हिस्से में तो
तेरी इक याद भी नहीं,

हर शाम निकलता हूँ घर से
तन्हाइयों से मिलने,
तक़दीर में शायद
तेरी-मेरी मुलाक़ात ही नहीं,

Saturday, November 10, 2018

कहानियाँ | Hindi Love Shayari


वो बेख़बर है मेरी मौजूदगी से भी,
शायद उसे इश्क़ में कोई मलाल नहीं,

सारे जवाब उसने ख़ुद ही सोच लिए,
उसके होंठों पे अब कोई सवाल नहीं,

आँखों में काज़ल भी है और पलकें झुकी भी है
मगर उसकी नज़र में अब वो कमाल नहीं,

दिल पिघलता ही नहीं उसकी अदाओं से अब,
उसकी साँसों में अब वो उबाल नहीं,

मैं हूँ कि उसकी कहानियाँ लिए बैठा हूँ,
उसके जहन में तो मेरा एक ख्याल भी नहीं |


Saturday, November 3, 2018

नाभि | रोमांटिक शायरी


तेरी कमर को छूती लटे तेरे चेहरे को ताक रही थी,
जैसे तेरी नाभि से वो चाँद की दूरी नाप रही थी ♥♥


Thursday, November 1, 2018

तक़दीर | Hindi Poems


दिल को अब कैसे करार मिले,
तेरा इश्क मिले या तेरा इंतज़ार मिले,
मेरी आँखों की तक़दीर भी तेरे हाथों में है,
इन्हें अश्क़ मिले या तेरा दीदार मिले  ♥♥