.

Monday, April 8, 2019

मैखानों | Adhoora iSHQ


थोड़ी तिरी आँखों में थोड़ी मैखानों में गुज़रेगी,
मुहब्बत अभी तो सर चढ़ी है धीरे-धीरे उतरेगी ।


No comments:

Post a Comment