Chhaanv | Infinite Love

मेरे
ख़्यालों से मैंने तुम्हारी एक तस्वीर बुनी है
,
मैंने
महलों को छोड़कर तुम्हारी जुल्फ़ों की छांव चुनी है
,

ये
लफ्ज़ और जज़्बात ख़ामोश थे तुम बिन
,
तुम्हें
देखा तब मैंने अपनी धड़कनो की
पहली
बार आवाज़ सुनी है
 ♥♥
Tagged , , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *