दिल के जख्म | Heartless

अब टूटे ना ये
दिल किसी से कि हाथों से ये गुलाब फेंक दे
,

कोई मेरे दिल के जख्मों पर थोड़ी सी शराब फेंक
दे
 |
Tagged , , , , , , , , , , , ,

4 thoughts on “दिल के जख्म | Heartless

    1. THanks Shraddha 🙂

    1. Thanks for reading 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *