जुल्फ़ें | Infinite Love

हवायें भी थम सी गयी जब उसने जुल्फ़ें संवारी,
नज़रे उसपे कुछ यूँ टिकी जैसे एक लम्हे में ज़िन्दगी गुजारी ♥♥


Tagged , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *