मर्ज़ | iSHQ Shayari

अब
उसकी मुस्कुराहट से सुकूँ है दिल को
,
यूँ तो मिरे मर्ज़ का कोई इलाज ना मिला ।
Tagged , , , , , , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *