मोहब्बत | Sad Shayari

ज़माने में और भी है छाने वाले लेकिन,
क्यों मोहब्बत सुनते ही
तेरा ख्याल आता है
|

Tagged , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *